लाइसेन्स जारी करने के लिए

बढ़ती व्यावसायीकरण के कारण नगर पालिका परिषद के राजस्व विभाग द्वारा प्रशासित लाइसेंस कर एक महत्वपूर्ण कर बन गया है। यह कर सिर्फ उद्योग, कारखाने और व्यापारियों पर लगाया जाता है नगरपालिका क्षेत्र के भीतर व्यापर के संचालन एवं व्यापार की वस्तुओं के भंडारण के लिए।