स्मार्ट सिटी मिशन

स्मार्ट सिटी क्या है?

स्मार्ट सिटी एक ऐसा नगर है जो की पारिस्थितिकी के अनुकूल प्रक्रियाओं अथवा प्रौद्योगिकी समन्वय एवं एक कुशल तरीके से सूचना प्रौद्योगिकी के उपयोग के माध्यम से आधारभूत संरचना, स्वच्छ एवं धारणीय वातावरण से सुसज्जित हो जो की जीवन की पर्याप्त गुणवत्ता प्रदान करने के लिए आवश्यक हैं।

कुछ चुनिंदा शहरों को स्मार्ट सिटी में तब्दील करने के पीछे का विचार मुख्य रूप से उन स्थानों के लिए निवेशकों को आकर्षित करना है जो की निवेशकों को बुनियादी ढांचे एवं स्मार्ट समाधान के साथ सुसज्जित एक प्रभावी मंच प्रदान कर पाएं जो व्यसायों को शुरू एवं प्रभावी रूप से संचालित करने में सक्षम हों ।

उद्देश:

भारत में विभिन्न शहरों को स्मार्ट शहरों में तब्दील करने के पीछे मुख्य उद्देश आर्थिक विकास की सुविधाएं उपलब्ध करा के, स्वच्छ और स्वस्थ पर्यावरण उपलब्ध करने के साथ-साथ प्रौद्योगिकी का उपयोग कर इन शहरों के लोगों के जीवन की गुणवत्ता में सुधार लाना है ।

स्मार्ट सिटी योजना के मुख्य तत्व

स्मार्ट सिटी योजना के दो मुख्य तत्व निम्लिखित हैं :

आधारभूत संरचना:

क्यूंकि स्मार्ट सिटी योजना का मुख्य उद्देश शहर में रहने वाले लोगों के जीवन की गुणवत्ता में वृद्धि करना है, इसलिए आधारभूत संरचना इस योजना का एक महत्वपूर्ण तत्व है जिसके विभिन्न तत्व निम्लिखित हैं :

  • पर्याप्त पानी की आपूर्ति
  • सुनिश्चित विद्युत आपूर्ति
  • उचित स्वच्छता जिसमें ठोस अवशेष शामिल हैं
  • कुशल शहरी गतिशीलता एवं सार्वजनिक परिवहन प्रणाली की सुविधा
  • किफायती आवास सुविधा (विशेष रूप से गरीबों के लिए)
  • मजबूत सूचना प्रौद्योगिकी संयोजकता एवं अंकरूपण
  • प्रभावी शासन, ई-गवर्नेंस एवं नागरिकों की भागीदारी
  • धारणीय वातावरण
  • उचित स्वास्थ्य अथवा शिक्षा प्रणाली सुगम एवं प्रभावी बनाना
  • नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करना